Class 9 Science Chapter 4 Notes in Hindi

Class 9 Science Chapter 4 Notes in Hindi परमाणु की संरचना

Class 9 Science Notes in Hindi Chapter 4 परमाणु की संरचना (Structure of the Atom) 9th Class Science Notes in Hindi Chapter 4 परमाणु की संरचना (Structure of the Atom)

Table of Contents

Class 9 Science Notes in Hindi Chapter  4 परमाणु की संरचना (Structure of the Atom)

Class 9 Science Chapter 4 Notes in Hindi परमाणु की संरचना

9th Class Science Notes in Hindi chapter 4 परमाणु की संरचना (Structure of the Atom) इस अध्याय में हमे जॉन डॉल्टन, प्रोटॉन की खोज-एनोड किरणें (केनाल किरणें ) की खोज किसने की ?, न्यूट्रॉन की खोज किसने की ?, “टॉमसन का परमाणु मॉडल” हैं ?, रदरफोर्ड का परमाणु मॉडल, बोर का परमाणु मॉडल।, परमाणु, संयोजकता और भी बहुत कुछ इस अध्याय से जुड़ा हुआ पढ़ने को मिलेगा।

इस Class 9 Science Chapter 4 Notes in Hindi परमाणु की संरचना (Structure of the Atom) इस अध्याय में हमे बहुत कुछ नया पढ़ने को मिलेगा और बहुत कुछ नया सिखने को मिलेगा।

Chapter = 4

(हमारे आस-पास के पदार्थ)

➡️ जॉन डॉल्टन को क्यों नकार दिया ?

  • जॉन डॉल्टन ने परमाणु को अविभाज्य इकाई माना था, पर उनका यह तथ्य उन्नीसवीं शताब्दी के अंत में नकार दिया गया। असल में वैज्ञानिकों ने उस दौरान परमाणु में आवेशित कणों जैसे , की इलेक्ट्रॉन, प्रोटॉन और अनावेशित कण न्यूट्रॉन की खोज की थी।
  • इलैक्ट्रॉन की खोज-कैथोड किरणें (जे. जे. टामसन)
  • टामसन ने कैथोड किरणों की मदद से परमाणु में इलैक्ट्रॉन की मौजूदगी के बारे में बताया।
  • इलेक्ट्रॉन पर आवेश 1.6×10″ C
  • इलेक्ट्रॉन पर द्रव्यमान = 9.1 x 10 Kg

➡️ प्रोटॉन की खोज-एनोड किरणें (केनाल किरणें ) की खोज किसने की ?

  • गोल्डस्टीन ने उनके द्वारा प्रसिद्ध एनोड किरणों या केनाल किरणों के प्रयोग से परमाणु में धनावेशित कण प्रोटॉन की खोज की।
  • प्रोटॉन पर आवेश = +1.6×10″C
  • प्रोटॉन का द्रव्यमान = 1.673 × 10Kg
  • प्रोटॉन का द्रव्यमान = 1840 * इलेक्ट्रॉन का द्रव्यमान

➡️ न्यूट्रॉन की खोज किसने की ?

  • जेम्स चैडविक ने हल्के तत्वों की कणों से साथ भिड़ंत करवाई. जिसके कारण एक नया कण बना जिनका द्रव्यमान प्रोटॉन के बराबर था, ओर वे आवेश रहित थे, उन्होंने इसकी उत्पत्ति (Produce) सिद्ध की।
  • इस कण को न्यूट्रॉन का नाम दिया।
  • न्यूट्रॉन, हाइड्रोजन के प्रोटियम समस्थानिक में नहीं होते हैं।
  • इलेक्ट्रॉन का द्रव्यमान प्रोटोन तथा न्यूट्रॉन के द्रव्यमान से अत्यधिक कम है, इसलिए परमाणु का द्रव्यमान, प्रोटोन और न्यूट्रॉन के द्रव्यमानों का योग के बराबर होगा।

➡️ “टॉमसन का परमाणु मॉडल” हैं ?

  • टॉमसन ने परमाणुओं को संरचना से संबंधित एक मॉडल प्रस्तुत किया, जो क्रिसमस केक की तरह था। इनके अनुसार परमाणु एक धनावेशित गोला था, जिसमें इलेक्ट्रॉन क्रिसमस केक में लगे सूखे मेवों की तरह थे तरबूज का उदाहरण भी ले सकते हैं,
  • टॉमसन के इस परमाणु मॉडल को ‘कटा तरबूज मॉडल’ भी कहते हैं।
  • परमाणु धन आवेशित गोले का बना होता है और इलेक्ट्रॉन उसमें धसे होते हैं।
  • ऋणात्मक और धनात्मक आवेश परिमाण में समान होते हैं। इसलिए ये उदासीन होते हैं।
  • हालांकि इस मॉडल में परमाणु के आवेशरहित विशेषता पर चर्चा की गई थी, लेकिन कुछ वैज्ञानिकों को यह मॉडल समझ में नहीं आया, इसलिए इसे नकार दिया गया।
  • Class 9 Science Chapter 4 Notes in Hindi

➡️ रदरफोर्ड का परमाणु मॉडल

  • अरनेस्ट रदरफोर्ड यह जानने के इच्छुक थे कि इलेक्ट्रॉन परमाणु के भीतर कैसे व्यवस्थित हैं। उन्होंने एक प्रयोग किया। इस प्रयोग में तेज गति से चल रहे अल्फा (हीलियम नाभिक He) कणों को सोने की पन्नी पर टकराया गया।
  • दरफोर्ड ने सोने की पन्नी इसलिए चुनी क्योंकि वे बहुत पतली परत चाहते थे। और सोने की यह पन्नी 1000 परमाणुओं के बराबर मोटी थी।
  • अल्फा कण द्विआवेशित हिलीयम कण होते हैं।
  • ये धनावेशित होते हैं।
  • चूँकि इनका द्रव्यमान 411 होता है इसलिए तीव्र गति से चल रहे इन अल्फा कणा में पर्याप्त ऊर्जा होती है।

➡️ रदरफोर्ड के प्रयोग के परिणाम

  • तेज गति से चल रहे ज्यादा तर अल्फा कण सोने की पन्नी से सीधे बाहर निकल गए।
  • कुछ अल्फा कण पन्नी के द्वारा बहुत छोटे कोण से विशेषित हुए।
  • आश्चर्यजनक बात तो ये थी की प्रत्येक 12000 कणों में से एक कण वापस आ गया।

➡️ रदरफोर्ड ने प्रयोग के परिणाम के आधार पर कुछ निष्कर्ष निकाले।

  • परमाणु के अंदर का ज्यादा तर भाग खाली है क्योंकि अधिकतर अल्फा कण सोने की पन्नी से बाहर निकल गए।
  • बहुत कम कण अपने मार्ग से विक्षेपित होते हैं जिससे यह पता चला कि परमाणु में धनावेशित भाग बहुत छोटा है।
  • परमाणु का सारा (Total) द्रव्यमान उसके नाभिक में होता है।

➡️ रदरफ़ोर्ड ने परमाणु का नाभिकीय मॉडल प्रस्तुत किया, जिसके निम्नलिखित लक्षण थे।

  • परमाणु का केंद्र धनावेशित होता है जिसे नाभिक कहते है।
  • एक परमाणु का लगभग संपूर्ण द्रव्यमान नाभिक में होता है।
  • इलेक्ट्रॉन नाभिक के चारों ओर वर्तलाकार मार्ग में चक्कर लगाते हैं।
  • नाभिक का आकार परमाणु के आकार की तुलना में काफी कम होता है।

➡️ रदरफोर्ड के परमाणु मॉडल की कमियाँ।

  • रदरफोर्ड के अनुसार इलेक्ट्रॉन नाभिक के चारों ओर चक्कर लगाते हैं आवेशित होने के कारण, ये कण अपनी ऊर्जा निरन्तर खोते रहते हैं जिसके कारण वे नाभिक में प्रवेश करते हैं। यह रदरफोर्ड परमाणु मॉडल की सबसे बड़ी कमी थी, जिसे रदरफोर्ड समझा नहीं पाया।
  • Class 9 Science Chapter 4 Notes in Hindi

➡️ बोर का परमाणु मॉडल।

  • रदरफोर्ड मॉडल की कमी का निवारण बोर के परमाणु मॉडल से हुआ नील्स बोर ने 1912 में परमाणु के बारे में अपना मोंडल प्रस्तुत किया जिसमें निम्नलिखित तथ्य मौजूद थे।
  • इलेक्ट्रॉन कुछ निर्धारित कक्षाओं में ही चक्कर लगा सकते हैं, जिन्हें इलेक्ट्रॉन की निर्धारित कक्षा कहते हैं।
  • इन निस्चित कक्षाओं में चक्कर लगाते हुए, ये इलेक्ट्रॉन अपनी ऊर्जा का विकिरण नहीं करते।
  • बोर ने इन कक्षाओं को K,I,M,N या संख्याओं 1, 2, 3, 4 के रूप मे सजाया।
  • Class 9 Science Chapter 4 Notes in Hindi

➡️ परमाणु किसे कहते हैं ?

  • परमाणु संख्या किसी भी परमाणु में प्रोटॉन की कुल संख्या का मान उसकी परमाणु संख्या जिस कहलाती है।
  • परमाणु संख्या किसी भी परमाणु का जानकारी-विशेष होता है, इसमें बदलाव किसी भी परमाणु के स्वरूप को बदल देता है।
  • “परमाणु संख्या को ‘z’ द्वारा सूचित किया जाता है।
  • किसी भी अनावेशित परमाणु में, प्रोटॉन तथा इलेक्ट्रॉन की संख्या बराबर होती है।

➡️ संयोजकता किसे कहते हैं ?

  • द्रव्यमान संख्या किसी परमाणु के नाभिक में मौजूद प्रोटोन तथा न्यूट्रॉन की मेक संख्या का जोड़ होती हैं।

➡️ द्रव्यमान संख्या किसे कहते हैं?

  • द्रव्यमान संख्या किसी परमाणु के नाभिक में मौजूद प्रोटोन तथा न्यूट्रॉन की संख्या का योग के बराबर होता हैं।
  • A=p(प्रोटोन की संख्या)+ n(न्यूट्रॉन की संख्या)

➡️ समस्थानिक कसे कहते हैं ?

  •  एक ही तत्व के ऐसे परमाणु जिनका परमाणु संख्या बराबर हो पर द्रव्यमान संख्या भिन्न हों। ऐसे परमाणु समस्थानिक कहलाए जाते हैं।
  • 9th class science notes in Hindi Chapter 4

➡️ समभारिक कसे कहते हैं ?

  • अलग-अलग तत्वों के ऐसे परमाणु जिनकी द्रव्यमान संख्याएँ एक जैसी हों समभारिक कहलाते हैं।
  • 9th Class Science Notes in Hindi Chapter 4

Class 9 Science Chapter 4 Notes in Hindi परमाणु की संरचना (Structure of the Atom) आशा करते है की आपको हमारी जानकारी पसंद आई होगी।

अगर आपको हमारे 9th Class Science Notes in Hindi Chapter 4 परमाणु की संरचना (Structure of the Atom) पसंद आए तो तो इसे आपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published.