Class 9 Science Notes in Hindi Chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings)

Class 9 Science Notes in Hindi Chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings)

Class 9 Science Notes in Hindi Chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings) 9th Class Science Notes in Hindi Chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings)

Class 9 Science Notes in Hindi Chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings) 9th Class Science Notes in Hindi Chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings)

9th Class Science Notes in Hindi chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings) इस अध्याय में हमे पदार्थ, ठोस, द्रव, गैस, संगलन, वाष्पीकरण, संघनन, जमना, उर्ध्वपातन, निक्षेपन और भी बहुत कुछ इस अध्याय से जुड़ा हुआ पढ़ने को मिलेगा।

इस Class 9 Science Chapter 1 Notes in Hindi हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings) इस अध्याय में हमे बहुत कुछ नया पढ़ने को मिलेगा और बहुत कुछ नया सिखने को मिलेगा।

Chapter = 1

(हमारे आस-पास के पदार्थ)

➡️ पदार्थ किसे कहते है ?

  • वैसा वस्तु जिसमे कुछ द्रव्यमान हो तथा जो स्थान घेर सके पदार्थ कहलाता है।
  • Example:- कुर्सी, घर, टेबल, आदि।

➡️ पदार्थ कुल कितनी प्रकार होती है?

  • पदार्थ कुल तीन प्रकार के होते हैं।
  • 1. ठोस
  •  2. द्रव
  •  3. गैस

➡️ ठोस किसे कहते हैं ?

  • वह पदार्थ जिसका आकार और आयतन दोनों निश्चित होता है उसे ठोस कहते हैं।
  • Example:- पेन, किताब, टेबल, आदि।

➡️ द्रव किसे कहते हैं ?

  • वह पदार्थ जिसका आकार आनिश्चित और आयतन निश्चित होता है उसे द्रव कहते हैं।
  • Example:- पानी, दूध, तेल, आदि।

➡️ गैस किसे कहते हैं ?

  • वह पदार्थ जिसका आकार और आयतन दोनों आनिश्चित होता है उसे गैस कहते हैं।
  • Example:- ऑक्सीजन, कार्बन डाइऑक्साइड, आदि।

➡️ पदार्थ के प्रकृति क्या है?

  • पदार्थ के प्रकृति निमानलीखित है।
  • पदार्थ कणों से मिलकर बना होता हैं।
  • पदार्थ के कर्ण बहुत छोटे होते हैं ।
  • पदार्थ के कणे लगातार गतीशिल होता है।
  • पदार्थ के कर्मों के बिच रिक्त स्थान होता हैं।
  • इसके दो कर्ण एक – दूसर को आकर्षित करते हैं।

➡️ ठोस, द्रव्य, गैस में अंतर बताओं ?

  • ठोस, द्रव्य, गैस में निमानलीखित अंतर है।
    ठोस

    इसका आयतन और आकार दोनों निश्चित होता है।

    इसके कर्णो के बिच लगने वाले अंतराविक बल सबसे अधिक होता हैं।

    इसका विसरण नही होता है।

    इसके कणों के बीच रिक्त स्थान कम होता है।

    द्रव

    इसका आकार अनिश्चित और आयतन निश्चित होता हैं।

    इसके कणों बीच लगने बाला अंतराणितक बल थोरा कम होता हैं।

    इसका विसरण कम होता है।

    इसके कर्णो के बीच रिक्त स्थान कम होता हैं।

    गैस
    इसका आकार और आयतन दोनों आनिश्चित होता है।इसेक कणों के बीच अंतराविक बल सबसे कम होता है।इसका विसरण सबसे अधिक होता है।इसके कणों के बीच रिक्त स्थान सबसे अधिक होता हैं।

9th Class Science Notes in Hindi Chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings)

9th Class Science Notes in Hindi Chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings)

Class 9 Science Notes in Hindi Medium Chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings)

➡️ संगलन किसे कहते हैं ?

  • जिस तापमान पर कोई वस्तु ठोस से गैस मे बदलने लगे उसे संगलन कहते हैं।

➡️ वाष्पीकरण किसे कहते हैं ?

  • जिस तापमान पर कोई वस्तु द्रव से गैस मे बदलने लगे उसे वाष्पीकरण कहते हैं।

➡️ संघनन किसे कहते हैं ?

  • जिस तापमान पर कोई वस्तु गैस से द्रव मे बदलने लगे उसे संघनन कहते हैं।

➡️ जमना किसे कहते हैं ?

  • जिस तापमान पर कोई वस्तु द्रव से ठोस मे बदलने लगे उसे जमना कहते हैं।

➡️ उर्ध्वपातन किसे कहते हैं ?

  • जिस तापमान पर कोई वस्तु ठोस से सीधा गैस मे बदलने लगे उसे उर्ध्वपातन कहते हैं।

➡️ निक्षेपन किसे कहते हैं ?

  • जिस तापमान पर कोई वस्तु गैस से सीधा ठोस मे बदलने लगे उसे निक्षेपन कहते हैं।

➡️ क्वथनांक किसे कहते हैं?

  • जब कोई द्रव्य जिस तापमान पर वास्प में बदलने लगे उस तापमान को क्वथनांक कहते हैं।

➡️ आद्रता कसे कहते हैं ?

  •  वायु मे उपस्थित जल की मात्रा को आद्रता कहते हैं।

➡️ वाष्पीकरण को प्रभावित करने वाले कारक को लिखो ।

  • वाष्पीकरण को प्रभावित करने वाले कारक निम्नलिखित हैं।
  • (1) सतह के क्षेत्रफल का बढ़ना:- सतह के क्षेत्रफल बढ़ने से वाष्पीकरणा का दर बढ़ जाता हैं। Example:- कपड़े सुखाने के लिए कपड़े का फेलाना।
  • (2) तापमान मे वृद्धि:- तापमान के बढ़ने से जल के कणों की गतीज ऊर्जा बढ़ जाती जिससे वाष्पीकरण का दर बढ़ जाता है। Example:- गर्मीयों में कपड़े का जल्दी सुखना।
  • (3) आद्रता मे कमी:- आद्रता के बढ़ने से वाष्पीकरण का दर घट जाता हैं। Example:- आद्रता वाले गौसम मे कपड़े का देर से सुखना।
  • (4) वायु की गती मे वृद्धी:- वायु की गति में वृद्धी के कारण जलवाष्प के कणों की गतीज ऊर्जा बढ़ जाती है जिससे वाष्पीकरण का दर बढ़ जाता है। Example:- हवा मे कपडे का सुखना।

Class 9 Science Chapter 1 Notes in Hindi हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings) आशा करते है की आपको हमारी जानकारी पसंद आई होगी।

अगर आपको हमारे 9th Class Science Notes in Hindi Chapter 1 हमारे आस-पास के पदार्थ (Matter in Our Surroundings) पसंद आए तो तो इसे आपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published.